आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें PDF के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes2 से जुड़े।

राजस्थान में सतत विकास लक्ष्य। राजस्थान आर्थिक समीक्षा 2021-22

 
Sustainable development goals in Rajasthan


राजस्थान में सतत विकास लक्ष्य

सतत विकास की परिभाषा:- सतत विकास  एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें यह सुनिश्चित किया जाता है, कि वर्तमान पीढी की आवश्यकताओं को पूरा करनें के साथ- साथ भावी सन्तति की आकांक्षाओं और आवश्यकताओं की पूर्ति में कठिनाई न हो।

सतत विकास लक्ष्य (SDG)
Sustainable development goals.
सितंबर 2015 में संयुक्त राष्ट्र की बैठक में वर्ष 2030 के लिए सतत विकास लक्ष्य का एजेंडा अपनाया गया, जिसे एजेंडा 2030 भी कहा जाता है।
• इस बैठक का एजेंडा 'Transforming our world' था।

• कुल 17 goals निर्धारित किए गए जो 169 targets से संबद्ध है।
• एसडीजी 5P पर आधारित है:- लोग (People), ग्रह (Planet), समृद्धि (Prosperity), शांति (Peace), परस्पर सहयोग (Partnership)।

प्रश्न.सरकार की नीतियों, योजनाओं और कार्यक्रमों में एसडीजी के लिए एक व्यापक विकासात्मक एजेंडा शामिल है। स्पष्ट कीजिए ?

सतत विकास लक्ष्य निम्नलिखित है -

1. गरीबी का अन्त (No poverty)
• दीनदयाल अन्त्योदय योजना, मनरेगा
2. भुखमरी समाप्त करना (No hunger)
• सार्वजनिक वितरण प्रणाली
• प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना
3. आरोग्य एवं कल्याण (Good health)
• राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति 2017 • मिशन इंद्रधनुष
• आयुष्मान भारत योजना
• मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना
4. गुणवत्तापूर्ण शिक्षा (Quality education)
• नई शिक्षा नीति 2020 • पीएम ई-विद्या योजना
5. लैंगिंक समानता (Gender equality)
• बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ • राष्ट्रीय पोषण मिशन
6. शुद्ध जल-एवं स्वच्छता (Clean water and sanitation)
• अटल भूजल योजना • जल जीवन मिशन
7. किफायती और स्वच्छ ऊर्जा (Clean energy)
• अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन • राष्ट्रीय सोलर मिशन
• कुसुम योजना • राष्ट्रीय ऊर्जा दक्षता मिशन
8. सम्मानजनक कार्य और आर्थिक विकास (Good jobs and economic growth)
• स्टार्टअप इंडिया • मेक इन इंडिया
• आत्मनिर्भर भारत अभियान
9. उद्योग, नवाचार और अवसंरचना (Innovations and infrastructure)
• राष्ट्रीय अवसंरचना पाइपलाइन
• राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन
10. असमानता में कमी लाना (Reduces inequality)
• सुगम्य भारत अभियान
11.संधारणीय शहर और समुदाय (Sustainable cities and community) 
• स्मार्ट सिटी मिशन
12. उत्तरदायी उपभोग एवं उत्पादन (Responsible consumption and production)
13. जलवायु कार्यवाही (Protect the planet) 
• एसडीजी इंडिया इंडेक्स (नीति आयोग द्वारा)
• पेरिस समझौते के तहत INDC
14. जल में जीवन (Life blow water)
• ब्लू इकोनामी • प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना
15. भूमि पर जीवन (Life on land)
• राष्ट्रीय ग्रीन इंडिया मिशन 2014
16. शान्ति, न्याय और सुदृढ़ संस्थाएं (Peace and justice)
• यूएन शांति मिशनों में योगदान
17. गोल्स के लिए भागीदारियाँ (Partnerships for the goals)
• नीति आयोग, विश्व बैंक

भारत की सतत विकास लक्ष्य के प्रति प्रतिबद्धता:-
• नीति आयोग को भारत में एसडीजी के क्रियान्वयन के लिए सहयोग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
• नीति आयोग एसडीजी इंडिया इंडेक्स रिपोर्ट के आधार पर सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों की रैंकिंग जारी करता है।
राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को उनके एसडीजी इंडिया इंडेक्स  स्कोर के आधार पर 4 तरीके से वर्गीकृत किया जाता है -
1. प्रतियोगी (Aspirant):- 0-49
2. प्रदर्शन करने वाला (Performer):- 50-64
3. सबसे आगे चलने वाला (Front runner):- 65-99
4. लक्ष्य हासिल करने वाला (Achiever):- 100

एसडीजी इंडिया इंडेक्स 1.0
• दिसंबर 2018 में जारी।
• 13 गोल्स पर आधारित।
(12,13,14,17 शामिल नहीं)
• राजस्थान का स्कोर - 59 (Performer)
• भारत का स्कोर - 57

एसडीजी इंडिया इंडेक्स 2.0
• दिसंबर 2019 में जारी।
• 16 गोल्स पर आधारित।
(17 शामिल नहीं)
• राजस्थान का स्कोर - 57 (Performer)
• भारत का स्कोर - 60

एसडीजी इंडिया इंडेक्स 3.0
• शीर्ष रैंक - केरल (75)
• अंतिम स्थान पर - बिहार
• केंद्र शासित प्रदेशों में शीर्ष - चंडीगढ़ (79)
• राजस्थान का स्कोर - 60 (Performer)
• भारत का स्कोर - 66
 राजस्थान एसडीजी इंडेक्स 1.0
• 12 गोल्स के 31 संकेतकों का उपयोग किया गया है।
• शीर्ष जिले:- 1. झुंझुनू (69.66)  2. जयपुर (69.36)
• अंतिम जिले:- 1. बारां (52.19)  2. जैसलमेर (51.57)

राजस्थान एसडीजी इंडेक्स 2.0
• शीर्ष जिले - 1.कोटा (59.3)  2. चुरू (58.6)
• अंतिम जिले - 1. जैसलमेर (41.69)  2. बाड़मेर (44.51)

प्रथम SDG अर्बन इंडेक्स एण्ड डेशबोर्ड वर्ष 2021-22
• नीति आयोग द्वारा जारी। 
• यह शहरी स्थानीय निकाय स्तर पर SDG की प्रगति की मॉनिटरिंग करने का एक साधन है, जिसमें 56 शहरी स्थानीय निकाय एवं 77 संकेतक (Indicator) शामिल है। 
• राजस्थान से चयनित तीन शहरी निकाय यथा जयपुर, कोटा एवं जोधपुर क्रमशः 37, 45 व 51 रैंक के साथ परफॉर्मर श्रेणी में रहे हैं। 
• शीर्ष स्थान:- शिमला एवं कोयंबटूर
• अंतिम स्थान:- मेरठ एवं धनबाद

• एसडीजी इंडिया इंडेक्स 2020-21, भारत में संयुक्त राष्ट्र के सहयोग से विकसित किया गया है।
इसे जारी करने के लिए सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (MoSPI) के द्वारा राष्ट्रीय संकेतक फ्रेमवर्क (NIF - National Indicator Framework) विकसित किया गया है।

राष्ट्रीय संकेतक फ्रेमवर्क (NIF) किससे संबंधित है ? - सतत विकास लक्ष्य

सतत विकास लक्ष्य के प्रति राजस्थान की प्रतिबद्धता:-
• राजस्थान सरकार "कोई भी पीछे ना रहे" के उद्देश्य से एसडीजी एजेंडा 2030 को साकार करने के प्रयास कर रही है। (Leaving no one behind)

संस्थागत व्यवस्था:-
• राजस्थान सरकार ने एसडीजी के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए आयोजना विभाग (Planning department) को नोडल विभाग बनाया गया है।
• मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय कार्यान्वयन एवं निगरानी समिति का गठन किया गया है।
• जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में जिला स्तरीय सतत विकास गोल्स कार्यान्वयन और निगरानी समिति का गठन किया गया है।

SAVE WATER

Post a Comment

0 Comments