आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें PDF के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़े।

चर्चित सूचकांक। अगस्त 2021। रिपोर्ट एवं सूची

 Famous index 2021



चर्चित सूचकांक अगस्त 2021

Famous index August 2021

2021 की फ़ॉर्च्यून ग्लोबल 500 सूची में 7 भारतीय कंपनियां को शामिल किया गया है।

हाल ही में जारी आकड़ो के अनुसार भारत की परमाणु ऊर्जा क्षमता (nuclear power capacity) मौजूदा 6,780 मेगावाट से 2031 तक 22,480 मेगावाट तक पहुंचने की उम्मीद है।

राष्ट्रमंडल सचिवालय द्वारा जारी 181 देशों में वैश्विक युवा विकास सूचकांक में भारत 0.626 के स्कोर के साथ 122वें स्थान पर है।
• शीर्ष - सिंगापुर।

स्काईट्रैक्स की शीर्ष 100 हवाई अड्डों की सूची में 4 भारतीय हवाई अड्डों को शामिल किया गया है।
• नई दिल्ली का इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भारत में शीर्ष पर रहा।

ग्लोबल क्रिप्टो एडॉप्शन इंडेक्स 2021 के अनुसार, भारत  वियतनाम के बाद दुनिया भर में क्रिप्टो अपनाने के मामले में दूसरे स्थान पर है।

हुरुन ग्लोबल द्वारा जारी 500 सबसे मूल्यवान कंपनियों की सूची 2021 के अनुसार Apple दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनी है।

ब्रिटिश कंपनी हाउसफ्रेश द्वारा तैयार की गयी रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2020 में दुनियाभर में सबसे प्रदूषित देश निम्न में से कौन सा था? - बांग्लादेश।

यूनिकॉर्न क्लब में शामिल होने वाला पहला भारतीय किप्टोएक्सचेंज कौन बन गया है ? - CoinDCX

वैश्विक विनिर्माण जोखिम सूचकांक में भारत को दूसरा स्थान मिला है। (47 देशों में)

इन्फोसिस 100 अरब डॉलर का एम-कैप पार करने वाली चौथी भारतीय फर्म बनी है।

नीति आयोग और उत्तर पूर्वी क्षेत्र के विकास मंत्रालय ने यूएनडीपी (UNDP) के तकनीकी सहयोग से उत्तर पूर्वी क्षेत्र जिला एसडीजी इंडेक्स रिपोर्ट (North Eastern Region District SDG Index Report ) और डैशबोर्ड 2021-22 लॉन्च किया है।
• शीर्ष रैंक - सिक्किम का पूर्वी सिक्किम जिला।

आईपीसीसी छठी आकलन रिपोर्ट
9 अगस्त, 2021 को जलवायु परिवर्तन पर अंतर सरकारी पैनल (IPCC) की छठी आकलन रिपोर्ट जारी की गई।
• रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा वैश्विक तापन रुझानों से भारत में वार्षिक औसत वर्षा में वृद्धि होने की संभावना है, आने वाले दशकों में दक्षिणी भारत में और अधिक गंभीर वर्षा होने की सम्भावना है।
अगले दो दशकों में पूर्व-औद्योगिक समय की तुलना में ग्रह अपरिवर्तनीय रूप से 1.5 डिग्री सेल्सियस गर्म होने की ओर अग्रसर है।
जब तक सभी देशों द्वारा तत्काल अत्यधिक उत्सर्जन कटौती नहीं की जाती, 2015 पेरिस समझौते के लक्ष्यों को प्राप्ति की संभावना नहीं है।
रिपोर्ट में आईपीसीसी द्वारा सिफारिश की गई है कि अलग-अलग देश 2050 तक शुद्ध शून्य उत्सर्जन प्राप्त करने का प्रयास करें।
रिपोर्ट के अनुसार अपने उत्सर्जन पर अंकुश लगाने के लिए देशों द्वारा मौजूदा प्रतिबद्धताओं के आधार पर, दुनिया वर्ष 2100 तक वैश्विक तापमान में कम से कम 2.7 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि की ओर अग्रसर है, इसे 'मानवता के लिए कोड रेड' (Code red for humanity) की संज्ञा दी गई है।
भारत पर प्रभाव: रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि 7,516.6 किमी. समुद्री तट रेखा के साथ, भारत को समुद्रों के बढ़ते स्तर से अत्यधिक खतरों का सामना करना पड़ेगा।
यदि समुद्र का स्तर 50 सेमी बढ़ जाता है तो छ: भारतीय बंदरगाह शहरों - चेन्नई, कोच्चि, कोलकाता, मुंबई, सूरत और विशाखापत्तनम में 28.6 मिलियन लोग तटीय बाढ़ के संकट का सामना करंगे।

नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड (NCDEX ) द्वारा लांच किये गए भारत के पहले कृषि क्षेत्रीय सूचकांक का क्या नाम है ? 
GUAREX (ग्वार से संबंधित)
सोयुडेक्स (सोयाबीन से संबंधित)
भारत दुनिया का सबसे बड़ा ग्वार उत्पादक देश है, जिसका उत्पादन 80-85% है, जबकि राजस्थान 80% बाजार हिस्सेदारी के साथ देश का शीर्ष उत्पादक है।

SAVE WATER

Post a Comment

0 Comments