आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें PDF के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़े।

पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी। जनवरी 2021

  Environment and Ecology


पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी जनवरी 2021

Environment and Ecology.

देश की कुल ऊर्जा जरूरत में हिस्सेदारी:-
कोयला 58%, पेट्रोलियम व अन्य तरल ईंधन 26%, प्राकृतिक गैस 6%, अक्षय ऊर्जा 2%

भारत का सबसे अधिक ऊंचाई पर स्थित मौसम विज्ञान केंद्र कहां बना है ? - लेह (समुद्र तल से ऊंचाई 3500 मीटर)

पहला पॉलीनेटर पार्क
नैनीताल में देश का पहला पॉलीनेटर पार्क बनाया गया है।
यहां तितली, मधुमक्खी समेत पॉलीनेटर की 50 से अधिक प्रजातियां हैं।

एशिया की सबसे बड़ी खारे पानी की झील है ? - चिल्का झील (ओडिशा)

जंगली बिल्ली कैराकल
राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड की स्थायी समिति ने जंगली बिल्ली ‘कैराकल’ (Caracal) को केंद्र प्रायोजित योजना ‘वन्यजीव निवास स्थलों का विकास’ के तहत वित्तीय सहायता के साथ संरक्षण के प्रयासों के अंतर्गत ‘गंभीर रूप से संकटग्रस्त’ प्रजातियों (critically endangered species) की सूची में शामिल करने की स्वीकृति दी है।
• यह राजस्थान और गुजरात के कुछ क्षेत्रों में पाई जाने वाली एक मध्यम आकार की जंगली बिल्ली है।
अब, ‘गंभीर रूप से संकटग्रस्त’ प्रजातियों के लिए रिकवरी कार्यक्रम में 22 वन्यजीव प्रजातियां शामिल हो गई हैं।

निकारागुआ चिड़ियाघर में पैदा हुआ दुर्लभ सफेद बाघ
जनवरी 2021 में मध्य अमेरिकी देश निकारागुआ के राष्ट्रीय चिड़ियाघर मसाया में, 'नीव' नामक एक दुर्लभ सफेद बाघ का जन्म हुआ है।
• स्पेनिश में नीव का अर्थ ‘बर्फ’ है।  
• नीव इस देश में पैदा होने वाला पहला सफेद बंगाल टाइगर है।
सफेद बाघ:- 'सफेद बाघ' बंगाल टाइगर (पैंथेरा टाइग्रिस टाइग्रिस) का एक दुर्लभ रूप है, जो भारत, बांग्लादेश, नेपाल और भूटान में पाया जाता है।
ये एक अलग प्रजाति नहीं है, बल्कि इसका सफेद रंग एक जीन के रिसेसिव म्यूटेशन यानि कमजोर पड़ जाने का परिणाम है।
2013 में चीनी शोधकर्ताओं की एक टीम ने पाया कि SLC45A2 नामक वर्णक जीन (pigment gene) इस विशेषता के लिए जिम्मेदार था।

फ्रांस सरकार ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चौथी ‘One Planet Summit’ का आयोजन किया, जिसका उद्देश्य विश्व की जैव विविधता की रक्षा करना था।
शिखर सम्मेलन का विषय:- “Let’s act together for nature!” 

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने चेरी ब्लॉसम महोत्सव के चौथे संस्करण का वर्चुली उद्घाटन किया है। 
• मणिपुर में सेनापति जिले का ‘माओ क्षेत्र’ चेरी ब्लॉसम के लिए जाना जाता है। यह पौधा जापान में लोकप्रिय रूप से ‘सकुरा’ (Sakura) के रूप में जाना जाता है।
•  मणिपुरसरकार 2017 से हर साल इस महोत्सव का आयोजन करती है। 

भारत में संरक्षित क्षेत्रों की संख्या है ?
केन्द्रीय पर्यावरण, बन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा हाल में जारी प्रबंधन प्रभावशीलता मूल्यांकन में देश में संरक्षित क्षेत्रों की संख्या 903 बताई गई है।
• यह देश के कुल क्षेत्रफल का 5% है। 
• इस मूल्यांकन में 146 राष्ट्रीय उद्यानों व वन्यजीव अभयारण्यों के साथ देश के चिड़ियाघरों के प्रबंधन को शामिल किया गया है।
• इस वर्ष से प्रत्येक वर्ष देश में 10 सर्वश्रेष्ठ राष्ट्रीय उद्यानों, 5 तटीय एवं समुद्री उद्यानों और शीर्ष 5 चिड़ियाघरों की सूची जारी की जाएगी और उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा।

भारतीय चिड़ियाघरों के लिए प्रबंधन प्रभावशीलता मूल्यांकन रुपरेखा
पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने 11 जनवरी 2021 को भारतीय चिड़ियाघरों के लिए प्रबंधन प्रभावशीलता मूल्यांकन [Management Effectiveness Evaluation of Indian Zoos (MEE-ZOO)] की रूपरेखा को लॉन्च किया।

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय ने हरित और स्वच्छ ऊर्जा के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए एक महीने तक चलने वाले "सक्षम" नामक जन जागरूकता अभियान की शुरुआत की है। 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जमुई जिले में स्थित नागी-नकटी पक्षी अभयारण्य में राज्य के पहले पक्षी महोत्सव कालरव (Kalrav) का उद्घाटन किया। 

महाराष्ट्र सरकार ने नागपुर स्थित गोरेवाड़ा अंतर्राष्ट्रीय चिड़ियाघर का नाम बदलकर ‘बालासाहेब ठाकरे गोरेवाड़ा अंतर्राष्ट्रीय प्राणी उद्यान’ कर दिया है।

गुजरात सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर 'कमलम' कर दिया है।

एशियाई शेरों का पहला प्रजनन केंद्र कहां है ? - इटावा

डॉ. राजेंद्र कुमार भंडारी को व्यक्तिगत श्रेणी में और सतत पर्यावरण और पारिस्थितिक विकास सोसाइटी (SEEDS) को संस्थागत श्रेणी में सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार 2021 से सम्मानित किया गया है।

सुंदरबन बायोस्फीयर रिजर्व के पक्षी
जनवरी 2021 में भारतीय प्राणी-विज्ञान सर्वेक्षण (ZSI) के अनुसार दुनिया के सबसे बड़े मैन्ग्रोव वन का हिस्सा ‘भारतीय सुंदरबन’ पक्षियों की 428 प्रजातियों का पर्यावास स्थल है।

केरल और तमिलनाडु में दुर्लभ चींटी वंश ‘उकेरिया’ (Ooceraea) की दो नई प्रजातियों की खोज की गई है।
• इनमें से एक केरल के ‘पेरियार बाघ अभयारण्य’ में पाई गई है, जिसका नाम ‘उकेरिया जोशी’ रखा गया है।
अन्य चींटी का नाम 'उकेरिया डेकामरा' (डेकामरा दस खंडों वाली एंटेना को संदर्भित करता है) है, जिसे मदुरै के अलगार्कोइल (Alagarkoil) से खोजा गया है।

भारत का नया आर्कटिक नीति मसौदा
भारत ने जनवरी 2021 में एक नई 'आर्कटिक’ नीति मसौदे का अनावरण किया है।
मुख्य उद्देश्य:- आर्कटिक क्षेत्र में वैज्ञानिक अनुसंधान, सतत पर्यटन तथा खनिज तेल और गैस की खोज को बढ़ावा देना।
• गोवा स्थित राष्ट्रीय ध्रुवीय एवं समुद्री अनुसंधान केंद्र (National Centre for Polar and Ocean Research-NCPOR) वैज्ञानिक अनुसंधान का नेतृत्व करेगा।
• भारत ने 2007 में आर्कटिक में अपना पहला वैज्ञानिक अभियान शुरू किया था।
• 'हिमाद्री' भारत का पहला स्थायी आर्कटिक अनुसंधान स्टेशन है, जो स्पिट्सबर्गेन, स्वालबार्ड, नॉर्वे में स्थित है। इसे 2008 में भारत के दूसरे आर्कटिक अभियान के दौरान स्थापित किया गया था।
• आर्कटिक पृथ्वी के सबसे उत्तरी भाग में स्थित एक ध्रुवीय क्षेत्र है। आर्कटिक के अंतर्गत आर्कटिक महासागर, निकटवर्ती समुद्र और अलास्का (संयुक्त राज्य अमेरिका), कनाडा, फिनलैंड, ग्रीनलैंड (डेनमार्क), आइसलैंड, नॉर्वे, रूस और स्वीडन को शामिल किया जाता है।

केन्द्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और फ्रांस की इकोलॉजिकल ट्रांजिशन मंत्री बारबरा पोम्पिली ने वर्ष 2021 को भारत-फ्रांस पर्यावरण वर्ष के रूप में लांच किया है।

हाल ही में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने नई दिल्ली में नेशनल मरीन टर्टल एक्शन प्लान जारी किया है।

पर्यावरण थिंक टैंक जर्मनवॉच ने क्लाइमेट रिस्क इंडेक्स 2021 की सूची में भारत को सातवें स्थान पर रखा है। मोजांबिक पहले स्थान पर है।
प्रश्न.जलवायु परिवर्तन से प्रभावित दुनिया के शीर्ष 10 देशों में भारत को कौनसा स्थान मिला है ? - 7 वां

SAVE WATER

Post a Comment

1 Comments