आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें PDF के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़े।

पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी। अप्रैल 2021

     Environment and Ecology


पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी अप्रैल 2021

Environment and Ecology.

लखनऊ विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के अनुसार मछलियों की ओटोलिथ हड्डी (कान के अंदर की हड्डी) नदियों में भारी धातुओं की मात्रा और प्रदूषण का पता लगाने में सहायक है।
• यमुना में सबसे ज्यादा बेरियम, मैंगनीज, क्रोमियम, लेड पाया जाता है।
• गंगा में कॉपर और जिंक की मात्रा ज्यादा है।

गाजियाबाद नगर निगम ग्रीन बॉन्ड जारी करने वाला देश का पहला नगर निगम बना है।

महाराष्ट्र सरकार ने सिंधुदुर्ग जिले में अम्बोली क्षेत्र को जैव विविधता विरासत स्थल के रूप में नामित किया है।
• यहां मीठे पानी की मछली प्रजाति (शिस्टुरा हिरण्यकेशी) पाई जाती है।
• शिस्टुरा एक छोटी और रंगीन मछली है।

भारत का सबसे बड़ा तैरने वाला सोलर प्लांट
भारत का सबसे बड़ा तैरता हुआ सौर ऊर्जा संयंत्र अगले महीने (मई) में तेलंगाना में चालू हो जाएगा।
इसकी क्षमता 100 मेगावाट है।
इस परियोजना की स्थापना एनटीपीसी ने की है।
• दुनिया का सबसे बड़ा तैरने वाला सौर ऊर्जा संयंत्र भी भारत के मध्य प्रदेश में नर्मदा नदी पर लगाया जाएगा।
यह परियोजना 600 मेगावाट की है।
महत्त्वपूर्ण तथ्य:- भारत का 2022 के अंत तक 175 गीगा वाट नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता का लक्ष्य है।
इसमें से 60 गीगावाट पवन ऊर्जा, 100 गीगावाट सौर ऊर्जा, 10 गीगावाट बायोमास ऊर्जा और 5 गीगावाट लघु जल विद्युत परियोजना के रूप में शामिल है।

भारत के पहले पर्यावरण मंत्री और वर्तमान में गुजरात के मोरबी जिले में वांकानेर के तत्कालीन रियासत के महाराजा दिग्विजयसिंह झाला का 3 अप्रैल 2021 को निधन हो गया।

सीबकथॉर्न
हिमाचल प्रदेश सरकार ने इस साल राज्य के ठंडे रेगिस्तानी इलाकों में सीबकथॉर्न (Seabuckthorn) के पौधे लगाने का फैसला किया है।
यह एक झाड़ी है, जो नारंगी-पीले रंग की खाने योग्य बेरों का उत्पादन करती है।
भारत में, यह हिमालय क्षेत्र में वृक्ष रेखा के ऊपर आमतौर पर शुष्क क्षेत्रों जैसे लद्दाख और स्पीति के ठंडे रेगिस्तान में पाया जाता है।

अर्गिरिया शरदचंद्रजी
अप्रैल 2021 में दक्षिण महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले में फूलों के पौधों की एक नयी प्रजाति खोजी गई, जिसका नाम राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार के नाम पर रखा गया है।
केंद्रीय कृषि मंत्री के रूप में पवार के योगदान को देखते हुए इस प्रजाति का नाम 'अर्गिरिया शरदचंद्रजी' रखा गया है।

महेंद्रगिरि बायोस्फीयर रिजर्व का प्रस्ताव
ओडिशा सरकार ने मार्च 2021 में राज्य के दक्षिणी भाग में स्थित महेंद्रगिरि में राज्य का दूसरा बायोस्फीयर रिजर्व का प्रस्ताव किया है।
• महेंद्रगिरि एक समृद्ध जैव विविधता वाला पर्वतीय पारिस्थितिकी तंत्र है। प्रस्तावित महेंद्रगिरि बायोस्फीयर रिजर्व का क्षेत्र लगभग 470,955 हेक्टेयर है और यह पूर्वी घाट में गजपति और गंजम जिलों में फैला हुआ है।

‘सदाबहार’ आम
राजस्थान के कोटा के 55 वर्षीय किसान श्रीकृष्ण सुमनने आम की एक ऐसी नई किस्म विकसित की है, जिसमें नियमित तौर पर पूरे साल ‘सदाबहार’ नाम का आम पैदा होता है।

चीन में ऊंटों के लिए दुनिया का पहला ट्रैफिक सिग्नल लगाया गया है।

अरुणाचल प्रदेश में एक नई पक्षी प्रजाति की खोज
बॉम्बे नेचुरल हिस्ट्री सोसाइटी (बीएनएचएस) के वैज्ञानिकों ने अरुणाचल प्रदेश में एक नई पक्षी प्रजाति की खोज की है।
• इस पक्षी की पहचान 'थ्री बैंडेड रोजफिंच' (three-banded rosefinch) के रूप में की गई है। यह भारत में पक्षी परिवार की 1,340वीं प्रजाति बन गया है।
• 'थ्री बैंडेड रोजफिंच' दक्षिणी चीन का निवासी है और भूटान में भी पाया जाता है।

दुर्लभ चौकोर छवि के क्वासर की खोज
अप्रैल 2021 में अंतरराष्ट्रीय खगोलविदों के एक समूह ने 12 दुर्लभ क्वासर्स की खोज की है, जिनमें से प्रत्येक चार अलग-अलग चौकोर छवियां प्रदान करते हैं, जिन्हें आमतौर पर 'आइंस्टीन का क्रॉस' (Einstein’s cross) कहा जाता है।
• क्वासर दूर आकाशगंगा का अत्यधिक चमकीला पिंड है, जिसे सुपरमैसिव ब्लैकहोल से ऊर्जा मिलती है।
• क्वासर अवलोकन का उपयोग मुख्य रूप से आकाशगंगाओं के विकास का निर्धारण करने और हमारे ब्रह्मांड के विस्तार की दर को समझने के लिए डार्क मैटर अध्ययन करने के लिए किया जाता है।

महाराष्ट्र को मिली भारत की पहली फ्लोटिंग LNG स्टोरेज और रिगैसिफिकेशन यूनिट
• भारत का पहला फ्लोटिंग स्टोरेज एंड रिगैसिफिकेशन यूनिट (FSRU) भारत के पश्चिमी तट पर महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले में एच-एनर्जी के जयगढ़ टर्मिनल पर पहुँच गया है।

13 अप्रैल, 2021 को जापान सरकार ने कहा कि फुकुशिमा परमाणु संयंत्र से 1 मिलियन टन से अधिक दूषित पानी को समुद्र में छोड़ा जाएगा।
• जापान फुकुशिमा परमाणु संयंत्र से रेडियोधर्मी पानी की बड़ी मात्रा को अगले दो वर्षों में प्रशांत महासागर में छोड़ना शुरू करेगा। इस कदम का स्थानीय मछुआरों और निवासियों ने कड़ा विरोध किया है।
• रेडियोधर्मी आइसोटोप ‘ट्राइटियम’ को पानी से अलग करने में कठिनाई होती है।
पानी को समुद्र में छोड़ने से पहले पानी को तब तक पतला किया जाएगा, जब तक कि ट्राइटियम का स्तर नियामक सीमाओं से नीचे नहीं आ जाता।
ट्राइटियम को अपेक्षाकृत हानिरहित माना जाता है, क्योंकि यह मानव त्वचा को भेदने और अन्य परमाणु संयंत्रों के लिए पर्याप्त ऊर्जा उत्सर्जन नहीं करता है।

नीरी
अप्रैल 2021 में वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) ने 'राष्ट्रीय पर्यावरण इंजीनियरिंग और अनुसंधान संस्थान (National Environment Engineering and Research Institute- NEERI) के निदेशक को उनके पद से हटा दिया है।
• नीरी की स्थापना 1958 में की गई थी। इसका मुख्यालय नागपुर में स्थित है।

वायनाड अभयारण्य एशियाई जंगली कुत्ते का निवास स्थल
अप्रैल 2021 में मांसाहारी 'एशियाई जंगली कुत्ते' या ढोल (dhole), पर किए गए एक अध्ययन के अनुसार हाथियों और बाघों के प्रमुख निवास स्थान ‘वायनाड वन्यजीव अभयारण्य’ में काफी संख्या में एशियाई जंगली कुत्ते हैं।
• ढोल (Cuon alpinus) मध्य एशिया, दक्षिण एशिया, पूर्व एशिया और दक्षिण पूर्व एशिया का एक मूल निवासी है। इसे भारतीय जंगली कुत्ता, एशियाई जंगली कुत्ता, लाल कुत्ता जैसे अन्य नामों से भी जाना जाता है।
एशियाई जंगली कुत्ते को आईयूसीएन द्वारा ‘संकटग्रस्त’ श्रेणी में सूचीबद्ध किया गया है। एशियाई जंगली कुत्ता प्रजाति वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 की अनुसूची- 2 के तहत संरक्षित है।

स्वच्छता उत्पाद 'ड्यूरोकिआ सीरीज'
केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आईआईटी हैदराबाद के शोधकर्ताओं द्वारा विकसित विश्व की पहली सस्ती और लंबे समय तक चलने वाली स्वच्छता उत्पाद 'ड्यूरोकिआ सीरीज' का वर्चुअल माध्यम से लोकार्पण किया।

न्यूजीलैंड वित्तीय फर्मों के लिए जलवायु परिवर्तन कानून बनाने वाला दुनिया का पहला देश बना है।

DRDO ने सैनिकों के लिए SpO2-आधारित पूरक ऑक्सीजन वितरण प्रणाली विकसित की है।
• यह व्यक्ति को हाइपोक्सिया की स्थिति से बचाती है।
• हाइपोक्सिया एक ऐसी स्थिति है जिसमें ऊतकों तक पहुंचने वाली ऑक्सीजन की मात्रा शरीर की सभी ऊर्जा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अपर्याप्त होती है।

भारत-जर्मनी ने प्लास्टिक कचरे को महासागरों में प्रवेश से रोकने के लिए समझौता किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेरिस समझौते की पांचवी वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित "नेताओं के जलवायु शिखर सम्मेलन" में भाग लिया, जिसकी मेजबानी अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने की। यह सम्मेलन 22-23 अप्रैल 2021 को वर्चुअली आयोजित किया गया।
• संयुक्त राष्ट्र का जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (COP26) नवंबर 2021 में ग्लासगो में आयोजित किया जाएगा।

अप्रैल 2021 में मेघालय के कम से कम 12 गाँवों ने भारत की सबसे साफ नदी मानी जाने वाली उमंगोट पर 210 मेगावाट की पनबिजली परियोजना का भारी विरोध किया है।

अमेरिका में जहरीली मकड़ी की नई प्रजाति मिली है।
इसका नाम पाइन रॉकलैंड ट्रैप्डोर स्पाइडर (उम्मीडिया रिचमंड) रखा गया है।

SAVE WATER

Post a Comment

0 Comments