आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़ेें

भारतीय संविधान के स्त्रोत

भारतीय संविधान के स्त्रोत

भारतीय संविधान के स्त्रोत

Sources of Indian Constitution.

प्रारूप समिति ने लगभग 60 देशों के संविधान का अध्ययन किया और उनके वे अच्छे प्रावधान जो भारतीय परिस्थितियों के अनुकूल थे, उन्हें लिया गया।

1. भारत शासन अधिनियम 1935 ईस्वी
यह हमारे संविधान का सबसे प्रमुख स्रोत है। संविधान के लगभग दो-तिहाई प्रावधान इसी से लिए गए हैं।
• संघीय ढांचा
• द्विसदनीय व्यवस्था
• राज्यपाल का पद
• प्रांतीय स्वायत्तता
• आपातकालीन प्रावधान
• लोक सेवा आयोग (PSC)
• समवर्ती सूची
• जनजातीय क्षेत्रों के लिए विशेष प्रावधान।

2. ब्रिटेन
• संसदीय शासन व्यवस्था
• द्विसदनीय व्यवस्था
• मंत्रिमंडल व्यवस्था
• मंत्रिपरिषद का निम्न सदन (लोकसभा) के प्रति सामूहिक उत्तरदायित्व
• First past the past अग्रेता ही विजेता
• एकल नागरिकता
• विधि के समक्ष समता
• विधायी प्रक्रिया
• विधि के द्वारा स्थापित प्रक्रिया
• रिट जारी करना
• नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG)

3. अमेरिका
• स्वतंत्र न्यायपालिका
• न्यायिक पुनरावलोकन
• जनहित याचिका (PIL)
• उच्चतम न्यायालय एवं उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों को हटाने की प्रक्रिया
• राष्ट्रपति पर महाभियोग की प्रक्रिया
• उपराष्ट्रपति का पद
• मूल अधिकार
• प्रस्तावना की पहली पंक्ति
• विधि का समान संरक्षण
• विधि की सम्यक प्रक्रिया (Due process of law)

4. कनाडा
• परिसंघीय ढांचा जिसमें अवशिष्ट शक्तियां केंद्र के पास होगी।
• राज्यों में राज्यपाल की नियुक्ति
• उच्चतम न्यायालय की सलाह देने की अधिकारिता।

5. आयरलैंड
• राज्य के नीति-निर्देशक तत्व
• राज्यसभा में सदस्यों का मनोनयन
• राष्ट्रपति की निर्वाचन पद्धति

6. दक्षिण अफ्रीका
• राज्यसभा के सदस्यों का निर्वाचन
• संविधान संशोधन

7. ऑस्ट्रेलिया
• समवर्ती सूची
• प्रस्तावना का प्रारूप
• दोनों सदनों का संयुक्त अधिवेशन
• अंतर्राज्यीय व्यापार एवं वाणिज्य (Interstate trade & commerce)

8. जर्मनी (वाइमर गणराज्य) 
• राष्ट्रीय आपातकाल के समय मूल अधिकारों का निलंबन।

9. फ्रांस 
• गणतंत्र, स्वतंत्रता, समानता, बंधुता (Fraternity)

10. रुस
• मूल कर्त्तव्य (42 वां संविधान संशोधन)
• सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक न्याय

11. जापान
• विधि के द्वारा स्थापित प्रक्रिया (Process established by law)

विधि के द्वारा स्थापित प्रक्रिया - न्यायालय अपनी मर्जी से कुछ नहीं कर सकता।

विधि की सम्यक प्रक्रिया - न्यायालय के हाथ कानून से बंधे नहीं होते। न्यायालय किसी भी कानून को शून्य घोषित करके अपने हिसाब से फैसला कर सकता है।

प्रश्न. क्या भारतीय संविधान एक उधार का थैला है ?

SAVE WATER

Post a Comment

0 Comments