आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़ेें

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के गठन को मंजूरी

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी



राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के गठन को मंजूरी 

(NRA- National Recruitment Agency)
18 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकार की नौकरियों के लिए राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी (एनआरए) के गठन को अपनी स्वीकृति दे दी है।
• राष्‍ट्रीय भर्ती एजेंसी शुरू में ग्रुप बी और ग्रुप सी (गैर-तकनीकी) पदों के लिए उम्‍मीदवारों के चयन के लिए ऑनलाइन सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित करेगी, जिसके लिए वर्तमान में कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी), रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) और आईबीपीएस द्वारा भर्ती की जाती है।
 इस एजेंसी में रेल तथा वित्‍त मंत्रालय, कर्मचारी चयन आयोग, रेलवे भर्ती बोर्ड और बैंक कार्मिक चयन संस्‍थान (आईबीपीएस) के प्रतिनिधि शामिल होंगे।

 एनआरए द्वारा गैर-तकनीकी पदों के लिए स्नातक, इंटरमीडिएट और मैट्रिक तीनों स्तर के लिए अलग-अलग सीईटी का संचालन किया जाएगा।
 सीईटी के अंक स्‍तर पर की गई स्‍क्रीनिंग के आधार पर, भर्ती के लिए अंतिम चयन पृथक विशे‍षीकृत टियर (II, III इत्यादि) परीक्षा के माध्‍यम से किया जाएगा, जिसे संबंधित भर्ती एजेंसी द्वारा संचालित किया जाएगा।

• राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी साल में दो बार सीईटी परीक्षा का आयोजन करेगी।
• उम्मीदवारों द्वारा सीईटी में प्राप्‍त स्कोर परिणाम घोषित होने की तिथि से 3 वर्षों की अवधि के लिए वैध होंगे। और सफल अभ्यर्थी अगले 3 साल तक विभिन्न विभागोंं में भर्ती की मुख्य परीक्षाओं में शामिल हो सकेंगे।

• सीईटी में अधिकतम आयु सीमा तक कई बार परीक्षा देने का विकल्प मिलेगा।
• देश के 117 आकांक्षी जिलों में परीक्षा से जुड़े बुनियादी ढांचे को विकसित करने पर विशेष ध्‍यान दिया जाएगा। इस एजेंसी के लिए 1517.57 करोड़ रुपए की राशि को मंजूरी दी गई है।

• राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी का गठन एक देश एक परीक्षा के विचार पर आधारित है।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के परीक्षा टेस्ट स्कोर के आधार पर सरकारी नौरिकयों की पेशकश करने वाला पहला राज्य मध्यप्रदेश है।
अब युवाओं को नौकरी के लिए अलग से कोई परीक्षा देने की आवश्कता नहीं होगी।

SAVE WATER

Post a Comment

0 Comments