आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़ेें

अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस 29 जुलाई ।। प्रोजेक्ट टाइगर

World tiger day, www.devedunotes.com


अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस

29 जुलाई को अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस के रूप में मनाया जाता है।
इस खास दिवस का मकसद बाघों के संरक्षण को लेकर लोगों में जागरूकता पैदा करना है।


बाघ दिवस मनाने की शुरुआत
2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में आयोजित एक शिखर सम्मेलन में अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मनाने की घोषणा हुई थी।
इस सम्मेलन में मौजूद कई देशों की सरकारों ने वर्ष 2022 तक बाघों की संख्या को दुगुना करने का लक्ष्य तय किया था।

वर्ल्ड वाइल्ड लाइफ फंड के अनुसार, दुनिया में सिर्फ 3,900 बाघ बचे हैं। इनमें से करीब 70% भारत में है। 2019 में भारत में 2,967 बाघ थे । देश में बाघों की संख्या लगातार बढ़ रही है। वहीं दुनिया में बाघों की कई प्रजातियां लुप्त हो चुकी हैं और सिर्फ 13 देशों में बाघ बचे हैं।


बाघों की प्रजातियां
अभी बाघों की जिंदा प्रजातियों में साइबेरियन टाइगर ,बंगाल टाइगर, इंडोचाइनीस टाइगर, मलायन टाइगर, सुमात्रन टाइगर  शामिल है।

बाघों की विलुप्त हो चुकी प्रजातियां बाली टाइगर, कैस्पियन टाइगर, जावन टाइगर है।

बाघों की गणना पर रिपोर्ट जारी
हाल ही जुलाई 2020 में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने नई दिल्ली में बाघों की गणना पर एक विस्तृत रिपोर्ट जारी की है।
भारत में बाघों की कुल आबादी अब 2967 है जो दुनिया भर में बाघों की आबादी का 70% है।

बाघों की संख्या के मामले में शीर्ष 3 राज्य
1. मध्य प्रदेश (526 बाघ)
2. कर्नाटक (524 बाघ)
3. उत्तराखंड (444 बाघ)

शीर्ष तीन रिजर्व
1. जिम कार्बेट नेशनल पार्क - उत्तराखंड (231 बाघ)
2. नागरहोल नेशनल पार्क - कर्नाटक (127 बाघ)
3. बांदीपुर नेशनल पार्क - कर्नाटक (126 बाघ)

भारत की बाघ गणना 2018
हाल ही में भारत की 2018 बाघ गणना को विश्व में कैमरे का विशाल जाल बिछाकर वन्यजीवों के सर्वेक्षण के लिए गिनीज बुक में शामिल किया गया है। सभी तस्वीरों को कृत्रिम बुद्धिमत्ता की सहायता से स्कैन किया गया है। इस तरह यह किसी भी देश द्वारा कराया गया अब तक का सबसे बड़ा गणना कार्य है।


प्रोजेक्ट टाइगर

भारत में प्रोजेक्ट टाइगर की शुरुआत इंदिरा गांधी के समय 1973 में सिर्फ 9 बाघ अभयारण्य के साथ की गई थी।
प्रोजेक्ट टाइगर का उद्देश भारत में उपलब्ध बाघों की संख्या के वैज्ञानिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और पारिस्थितिक मूल्यों का संरक्षण सुनिश्चित करना है।
वर्तमान में भारत में 72,000 वर्ग किलोमीटर से अधिक क्षेत्र में फैले 50 बाघ अभयारण्य है।

सरकार द्वारा बाघों के स्मार्ट पेट्रोलिंग प्रोटोकॉल, बाघों की गहन सुरक्षा एवं पारिस्थितिकी स्थिति की निगरानी प्रणाली के लिए एक महत्वकांक्षी डिजिटल इंडिया कार्यक्रम शुरू किया गया है, जिसे सभी 50 बाघ अभयारण्यों में लागू कर दिया गया है।

बाघों के संरक्षण को लेकर भारत अब दुनिया के दूसरे देशों की भी मदद करेगा। राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण ने दुनिया भर में ऐसे 13 देशों की पहचान की है जहां मौजूदा समय में बाघ पाए जाते हैं, लेकिन बेहतर संरक्षण के अभाव में इनकी संख्या काफी कम है। ऐसे में अभी वह इन सभी देशों को बाघों के संरक्षण को लेकर बेहतर तकनीक और योजना दोनों ही उपलब्ध कराएगा।
बाघों के संरक्षण के लिए भारत ने जिन 13 देशों में मुहिम चलाने का फैसला लिया है, उनमें बांग्लादेश, नेपाल, भूटान, रूस, म्यांमार, उत्तर कोरिया, अफगानिस्तान, लाओस, कंबोडिया, वियतनाम, थाईलैंड, इंडोनेशिया और श्रीलंका शामिल है।


राजस्थान में टाइगर रिजर्व

राजस्थान में तीन टाइगर रिजर्व है -
पहला -1973 रणथंभौर टाइगर रिजर्व - सवाई माधोपुर
दूसरा - 1978 सरिस्का टाइगर रिजर्व - अलवर
तीसरा - 2013 मुकन्दरा हिल्स टाइगर रिजर्व - कोटा
चौथा - प्रस्तावित, रामगढ़ विषधारी - बूंदी

राजस्थान में चौथा टाइगर रिजर्व बूंदी जिले में प्रस्तावित है।

कैलाश सांखला को टाइगर मैन ऑफ इंडिया कहा जाता है।

श्री सांखला को Tiger project का संस्थापक निदेशक (प्रथम निदेशक) नियुक्त किया गया।

इन्हीं के प्रयासों से बाघ को रेड डाटा बुक में सम्मिलित किया गया।

कैलाश सांखला पुरस्कार

इसके अंतर्गत प्रतिवर्ष राज्य स्तर पर ₹50000 का नकद (₹25000 राज्य सरकार + ₹25000 टाइगर ट्रस्ट नई दिल्ली द्वारा) पुरस्कार वन्य जीव संरक्षण एवं सुरक्षा में असाधारण कार्य करने वाले वनकर्मियों व नागरिकों को दिया जाता है।

• भारत का राष्ट्रीय पशु क्या है ? - बाघ

• भारत में सर्वाधिक बाघों की संख्या वाला राज्य है ? - मध्य प्रदेश

• भारत में सर्वाधिक बाघों की संख्या वाला टाइगर रिजर्व है ?
 - जिम कार्बेट

• मुकन्दरा हिल्स को टाइगर रिजर्व कब घोषित किया गया ? - 9 अप्रैल 2013


• राजस्थान का चौथा टाइगर रिजर्व किस जिले में प्रस्तावित है ? - बूंदी

• 2018 की बाघ गणना के अनुसार भारत में बाघों की संख्या कितनी है ? - 2967

• विश्व में बाघों की संख्या कितनी है ? - 3900

नोट - भारत में विश्व की 2.5% जमीन, 4% बारिश, 16% जनसंख्या तथा 8% जैव-विविधता मौजूद है।

SAVE WATER

Post a Comment

0 Comments