आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़ेें

अध्याय - 11 आदेश की एकता

Lok prashasan, DevEduNotes


आदेश की एकता

संगठन में अधीनस्थों को केवल एक ही उच्च अधिकारी से आदेश प्राप्त होने चाहिए अर्थात् यह अवधारणा एक अधीनस्थ एक उच्च अधिकारी सिद्धांत की समर्थक है।


आदेश की एकता सिद्धांत की विशेषताएं

1. यह सिद्धांत पद सोपान सिद्धांत से जुड़ा हुआ है।
2. इसके अनुसार अधीनस्थ को केवल एक ही उच्च अधिकारी से आदेश प्राप्त होने चाहिए।
3. यह संगठन में सत्ता व नेतृत्व को स्पष्ट करता है।
4. यह संगठन में अधीनस्थ की उच्च अधिकारी के प्रति जवाबदेही तय करता है।


आदेश की एकता सिद्धांत का महत्व

1. यह आदेशों या कार्यों के दोहराव को रोकता है।
2. इससे अधीनस्थों में असमंजस की स्थिति उत्पन्न नहीं होती है।
3. संगठन में अनुशासन व नियंत्रण प्रभावी रूप से बना रहता है।
4. प्रशासनिक कार्यकुशलता में वृद्धि
5. संगठन में त्वरित निर्णय प्रणाली को सुनिश्चित करता है।


आदेश की एकता सिद्धांत की प्रासंगिकता

1. टेलर ने आदेश की एकता सिद्धांत का फंक्शनल फोरमैनशिप सिद्धांत द्वारा विरोध किया।
उनके अनुसार एक फैक्ट्री में एक श्रमिक को 8 स्थानों से आदेश प्राप्त होते हैं। अत: एक फैक्ट्री में आदेश की एकता सिद्धांत अव्यावहारिक है।
टेलर ने आदेश की एकता सिद्धांत को "मिलिट्री टाइप फोरमैनशिप" कहा है।

फंक्शनल फोरमैनशिप


2. विकास प्रशासन में भी आदेश की एकता सिद्धांत अप्रासंगिक है।



SAVE WATER

Post a Comment

1 Comments