आपका स्वागत है, डार्क मोड में पढ़ने के लिए ऊपर क्लिक करें अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल DevEduNotes से जुड़ेें

अध्याय- 10 नीतिशास्त्र : कन्फ्यूशियसवाद

नीतिशास्त्र, Ethics for UPSC


नीतिशास्त्र में कन्फ्यूशियसवाद

कन्फ्यूशियस एक चीनी विचारक था।

इसने सामाजिक व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कुछ सिद्धांत दिए।

मुख्य सिद्धांत निम्नलिखित है:-

(1) रेन - इसका अर्थ है मानवतावाद। 
मानवता ही मनुष्य को विशिष्ट रूप से मनुष्य बनाती है। यह सभी सद्गुणों में श्रेष्ठ है। इसकी रक्षा करना सबसे आवश्यक है। इसके लिए व्यक्ति स्वयं का बलिदान भी दे सकता है इसी से दूसरों तथा स्वयं के प्रति गरिमा का भाव आता है ।

(2) ली - यह सामाजिक व्यवहार का एक मार्गदर्शक है।
दूसरों के साथ वैसा व्यवहार किया जाना चाहिए जैसा कि दूसरों से अपेक्षित है अर्थात दूसरों के साथ सकारात्मक व्यवहार किया जाना चाहिए। मध्यम मार्ग अपनाया जाना चाहिए अर्थात व्यक्ति को सभी प्रकार की अतिवादिताओं से बचना चाहिए।

इसके अनुसार समाज में सामाजिक व्यवस्था के लिए पांच प्रकार के रिश्ते महत्वपूर्ण है-

(A) पिता -पुत्र :- पिता का पुत्र के प्रति व्यवहार स्नेह पूर्ण होना चाहिए तथा पुत्र को पिता का आदर करना चाहिए

(B) बड़ा भाई और छोटा भाई :- बड़े भाई को छोटे भाई के प्रति सौम्य  होना चाहिए व उसकी देखभाल करनी चाहिए और छोटे भाई को बड़े भाई के प्रति सम्मान पूर्ण होना चाहिए।

(C) पति - पत्नी:- पति का पत्नी के प्रति अच्छा व्यवहार होना चाहिए और पत्नी को पति की सुननी चाहिए।

(D) बड़ा मित्र - छोटा मित्र:- बड़े मित्र को छोटे मित्र के प्रति विचारशील होना चाहिए तथा छोटे मित्र को बड़े मित्र में आस्था होनी चाहिए।

(E) शासक - प्रजा :- शासक को परोपकारी होना चाहिए और प्रजा शासन के प्रति वफादार होनी चाहिए।

आयु का प्रत्येक परिस्थिति में सम्मान किया जाना चाहिए अर्थात बड़ों का आदर करना चाहिए।

(3) यी - इसका अर्थ है नैतिक स्वभाव।
इसके माध्यम से व्यक्ति जानता है कि क्या सही है और क्या गलत। इसके माध्यम से व्यक्ति विकट परिस्थितियों में भी सही निर्णय लेता है ।

(4) सिआओ - इसके अनुसार समाज का मुख्य अंग परिवार है इसलिए व्यक्ति को प्रत्येक परिस्थिति में वह कार्य करने चाहिए जिससे कि परिवार की गरिमा बढ़ती हो। परिवार में भी माता-पिता का सदैव आदर किया जाना चाहिए क्योंकि मनुष्य का अस्तित्व माता-पिता के कारण है ।

(5) चीह- सही और गलत का ज्ञान प्राप्त करना चाहिए।

(6) ते - इसका अर्थ है सत्ता।
सरकार की दक्षता तीन कारकों के आधार पर मापी जाती है -
(A) आर्थिक पर्याप्तता
(B) सैन्य पर्याप्तता
(C) लोगों का विश्वास
सरकार के द्वारा नैतिक उदाहरण प्रस्तुत किया जाना चाहिए।

SAVE WATER                

Post a Comment

0 Comments